Self confidence (आत्मविश्वास) कैसे बढ़ाये ?आत्मविश्वास बढ़ाने के 10 best तरीके हिंदी में

आत्मविश्वास कैसे बढ़ाये?

 Self confidence (आत्मविश्वास) कैसे बढ़ाये ?आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए आत्महीनता कि भावना को कभी ना पनपने दिया जाये जो भी कार्य करे पुरे मन से और विश्वास के साथ करे यह कार्य  हम से नहीं होंगा या यह कार्य सही होंगा भी या नहीं जैसे बाते सोचना आत्मविश्वास कि कमी और असफलता कि निशानी है !

कई बार ऐसा होता है कि हमे किसी विषय का सम्पूर्ण ज्ञान होने के बाद भी उसे किसी के सामने व्यक्त नहीं कर पाते है इस का कारण आत्मविश्वास कि कमी है इसके ठीक उल्टा किसी व्यक्ति को पूरा ज्ञान एवं अनुभव न होने के बाद भी वह अपनी बात को दुसरो के सामने इतने विश्वास से व्यक्त करता है कि सुनने वाले उससे प्रभावित हुवे बिना नहीं रह पाता है इसका कारण उच्च आत्मविश्वास है !

Self confidence (आत्मविश्वास) कैसे बढ़ाये ?आत्मविश्वास बढ़ाने के 10 best तरीके हिंदी में

जिस युवक में आत्मविश्वास कि कमी होती है उसके लिए कोई भी निर्णय ले पाना कठिन होता है वह अपने आप को हमेशा असमंंजस  में पाता है वह जिंदगी में डर महसूस कर खुद से ही अनजान रहता है इस लेख में हमने आपको आत्मविश्वास बढ़ाने के 10 best तरीके बताये है यदि आप इन तरीको को अपनी जिंदगी में उतार लेते है तो आप बिना डरे अपनी बात किसी के भी सामने व्यक्त कर पाएंगे और हर असफलता को सफलता में आसानी से बदल देंगे यह सब आत्मविश्वास से ही संंभव है-

1. रोचक बाते-(Interesting things)

रोचक बाते यानी दिलचस्प लगने वाली बाते आत्मविश्वास बढ़ाने में रोचक तरीके से बातचीत करने कि कला भी बहुत मददगार साबित होती है किसी भी विषय पर चर्चा हो रही हो उसे रोचक तरीके से व्यक्ति या व्यक्ति के समूह के सामने पेश करने से आत्मविश्वास बढ़ता है और इसके साथ-साथ झिझक हटती है, मनोबल बढ़ता है अपनी बातो से दुसरो पर सकारामक असर होता देख अपने महत्व का पता चलता है और खुद पर विश्वास बढ़ता है !

2. अनुशासन में रहे-(Be in discipline)

अनुशासन का अर्थ होता है किसी भी क्षेत्र में नियमो का पालन करना तथा खुद के लिए पूरी तरह से समर्पित होना आज सफलता के लिए आत्मविश्वास का होना जरूरी है आत्मविश्वास प्राप्त करने के लिए अनुशासन का होना अत्यंत ही आवश्यक है अपने आप में आत्मविश्वास का निर्माण करने के लिए खुद को अनुशासित करे और अपने मन पर पूरी तरह से नियंंत्रण रखे !

3. मन से डर निकाले-(Take fear out of your mind)

मन से डर निकाले नही तो इससे आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है अगर कोई जबरदस्ती आप पर कार्य का बोझ डाल रहा हो और वो कार्य करने में आप समर्थ नही है तो आप उसे बिना डरे विनम्रता से मना करने कि हिम्मत रखे बिना डरे मतलब किसी का अपमान नहीं करना है  अपितु आत्मविश्वास से बात करना रोचकता, कुशलता व मानवता का प्रदर्शन है !

4. ईमानदार बने-(Be honest)

ईमानदारी एक विश्वसनीय सच्चाई कि और अच्छे गुणो कि निशानी है इसलिए जीवन में अपनी सकारात्मक छवि बनाये और ईमानदार बने रहे जिससे आपके मन से डर निकलता है आपका आदर,सम्मान बढ़ता है और आपको अच्छा महसूस होता है इसी वजह से आत्मविश्वास बढ़ता है !

5. जिम्मेदारी लेना सीखे -(Learn to take responsibility)

जिम्मेदारी लेने से शुरुआत में आपको कठिनाई का सामना करना पड़ सकता है लेकिन आपके भविष्य के लिए यह बहुत लाभदायक है जिम्मेदारी लेने से हम कोई भी कार्य को अच्छे से कर पाते है जिम्मेदारी लेने कि शुरुआत अपने आप से शुरू करे पहले अपनी जिम्मेदारी ले फिर अपने घर परिवार कि और आखिर में अपने समाज कि इससे आपको नयी-नयी जानकारिया हासिल होती है !

6. ज्ञान प्राप्त करे-(gain knowledge)

रोजाना सुबह कुछ मिनट के लिए अख़बार, पुस्तके, अच्छी पत्रिकाए, बड़े लेखको के उपन्यास,कहानिया, कविता पढने से केवल आप आनंदित ही नहीं होंगे अपितु इस ज्ञान द्वारा ही आत्मविश्वास,आत्मबल,कर्मठता व क्षमता जैसे गुण उत्पन्न होते है जो आत्मविश्वास बढ़ाने के लिये अहम है !

7. असफलताओ से  घबराये नहीं-(Not afraid of failures)

कभी-कभी ऐसा होता है कि हमें असफलताओ का सामना करना पडता है जिससे हमारे आत्मविश्वास में कमी आ जाती है याद रखिये सफलता प्राप्त करने के लिए असफलताओ से गुजरना पड़ता है आप भी अपने आप को जाँचिये और अपनी योग्यता के अनुसार कार्य का चयन करे जिससे आप असफल नहीं होंगे और आप में आत्मविश्वास जाग्रत होंगा !

8. लक्ष्य तय  करे-(Set goals)

आप अपना एक लक्ष्य तय करे और पुरे उत्साह के साथ लक्ष्य कि तरफ आगे बढिए आपको अपने लक्ष्य कि तरफ आगे बढ़ता देख आप पर  हसने वालो कि नजरे नीची हो जाएँगी और कुछ समय बाद आप खुद अपनी सफलता पर हैरान हो जायेंगे !

9. अभिमान से बचे-(Avoid arrogance)

अभिमान करने से ज्ञान अर्जित करने कि एवं ज्ञान बांटने कि क्षमता कम हो जाती है क्युकी अभिमानी व्यक्ति खुद को अकेला महसूस करने लग जाता है अभिमान करने वाले व्यक्ति  किसी भी क्षेत्र में आगे नहीं बढ़ पाते है एवं उनकी बुद्धि नष्ट हो जाती है अभिमान आते ही जलन,गुस्सा,लालच आदि बुरे गुण पैदा हो जाते है और उनके विकास कि गति रुक जाती है !

10. इच्छाशक्ति बढाये-(Increase will power)

इच्छाशक्ति को सोचने-समझने एवं निर्णय लेने कि शक्ति भी कहा जाता है इच्छाशक्ति का सफलता के साथ गहरा लगाव होता है जब किसी व्यक्ति के मन में सफल व्यक्ति बनने कि इच्छा जन्म लेती है तो उस सफलता को प्राप्त करने के लिए जरूरी उद्देश्य भी अपने आप जन्म ले लेते है जिससे आप हर कार्य में सफलता प्राप्त कर लेते है इसलिए आप इच्छाशक्ति बढ़ाकर अपने आत्मविश्वास को भी बड़ा सकते है इसी वजह से इच्छाशक्ति को आत्मविश्वास भी कहा जाता है !

निष्कर्ष-(conclusion)

यदि आपने इस लेख में बताये गये Self confidence (आत्मविश्वास) कैसे बढ़ाये ?आत्मविश्वास बढ़ाने के 10 best तरीके हिंदी में को समझकर अपनी  जिंदगी में अपना लिए तो आप में बेहद आत्मविश्वास आ जायेंगा और कभी भी आप अपने को कमजोर नहीं समझेंगे !

मुझे उम्मीद है कि यह लेख Self confidence (आत्मविश्वास) कैसे बढ़ाये ?आत्मविश्वास बढ़ाने के 10 best तरीके हिंदी में आप को बेहद पसंद आया होंगा यदि आपको पसंद आया है तो इसे Social media a/c पर Share करना न भूले और Comment में अपनी कीमती राय जरुर दे !

Leave a Reply