Depresssion se bahar kaise nikle depression से बाहर निकलने के लिए उपाय

depression se bahar kaise nikle

Depression se bahar kaise nikle या निराशा से बाहर कैसे निकले -(How to avoid disappointment)

हमेशा निराश रहने से, कुछ करने कि उमंग ही नहीं कुचली जाती है बल्कि काम करने का उत्साह भी ठंडा पड जाता है मंजिल धुंधली नजर आती है सोचने विचारने कि शक्ति भी जवाब देने लगती है! जब भी आप निराशा के आगे घुटने टेकते है आप अपनी उम्मीदों के महल तोड़ते है जिस मन में होसला नहीं है वह किसी भी तरह का रचनात्मक कार्य कैसे करेंगा वह रचनात्मक रह ही नहीं सकता क्यूंकि वह तो ख़त्म करने पर तुला है इसका सीधा मतलब यह है कि यदि आप निराशा को मन में जगह देते है तो समझ लीजिये कि आप अपना केरीयर खुद बर्बाद कर रहे है! Depresssion se bahar kaise nikle depression से बाहर निकलने के लिए कुछ Best उपाय बताने जा रहे है जो आपको depression से बाहर निकलने के लिए या  निराशा से बाहर निकलने के लिए बेहद उपयोगी साबित होंगे-

Depression  होने पर व्यक्ति अकेले रहने लगता है, तनाव में रहता है, चिडचिडा रहता है और समय रहते इस समस्या से बाहर नहीं निकल पाता है तो अंत में डिप्रेशन जैसी बीमारी का शिकार होकर आत्महत्या कर लेता है!

क्या आप depression में है?- 

हमने कई व्यक्तियों को देखा है कि वे हमेशा उदास,परेशांन,Depression में ही दिखते है यदि हम उन व्यक्तियों से पूछते है कि अरे भाई,आप इस तरह उदाश,निराश,परेशांन क्यों रहते है ?क्या depression ही आपके भाग्य में है?

तो वह गुस्से में कहेंगे कि वाह जनाब,आप भी खूब कहते है -जब हमारे भाग्य में depression में रहना ही लिखा है, तो हम खुश कैसे रहेंगे भाई हम तो जिस काम में हाथ डालते है,उस काम में असफलता ही मिलती है इस प्रकार depression का शिकार व्यक्ति अपने आपको ही कोसते रहता है!

इसके अलावा निराश व्यक्ति जरा सी कठिनाई, परेशानी आने पर ही घबरा जाता है और जल्दी ही उस परेशानियों, कठिनाइयों से निकलने के लिए पंडितो, ज्योतिषियों, फकीरों के पास जा कर समय व्यर्थ करने लगता है उसे ऐसा महसूस होता है कि जैसे निराशा उसके सिर पर बोझ बन गयी हो!

1. जिंदगी में धैर्य रखे-(Be patient in life )

जिंदगी में धैर्य रखकर अपने  दुखो को भुलाकर आगे बढ़ते रहिये दुःख के दिनों में धैर्य से काम लेना चाहिए वरना सुख कभी नहीं मिल पाता है कहते है धैर्य एक ऐसी सवारी है जो अपने सवार को कभी गिरने नहीं देती ना किसी के कामो में ना किसी कि नजरो में इसलिए जिंदगी में धैर्य रखना चाहिए !

2. समस्याओ का हल तलाशे-(Looking for solutions to problems)

जिंदगी में हमेशा समस्याओ को नजर अंदाज करना उनका हल नहीं है हकीकत को स्वीकार करे और अपने आप से कहे, इस समय हम मुसीबतों, परेशानियो से घिरे है, लेकिन अगर हम डट कर का इनका मुकाबला करे और सही समाधान ढूंढने कि कोशिश करे तो जरुर इन समस्याओ से छुटकारा पा सकते है !

3. जिंदगी में नया सीखते रहे-(Keep learning new in life)

जो लोग जिंदगी कि सारी समस्याओ के बिच भी तरक्की के लिए कोशिश करते रहते है, वे आशावान बने रहते है इसलिए आप भी जिंदगी में आगे बढ़ने के लिए समय-समय पर कुछ न कुछ करते रहे, सीखते रहे इससे आप का तनाव दूर होंगा और आपको चुस्तदुरुस्त भी रखेंगा इसके लिए आप कोई मनपसन्द उपन्यास पढ़े, कविता लिखे, पेंटिंग करे, बागवानी करे या व्यायाम सिखने के लिए किसी संस्था से जुड़ जाये कुछ न कुछ सिखने व उससे आनंद प्राप्त करने का सिलसिला जारी रहना चाहिए क्यूंकि इसी तरह आप जिंदगी से depression को दूर कर सकते है !

4. जिंदगी जीना सीखे-(Learn to live life)

जिंदगी जीना अपने आप में एक कला है तभी तो न जाने कितने करोड़ कि इंडस्ट्री केवल जिंदगी कैसे जी जाये यह सिखने और सिखाने के बल पर चल रही है लोग काम कि अधिकता और ज़िम्मेदारियो में इतना खो जाते है कि एक तरह से वह जीना ही भूल जाते है याद रहे परमात्मा के हाथ से कभी गलत निर्माण नहीं होता इसलिए हमें अपने मनुष्य होने पर गर्व करना चाहिए !

5.खुद को अकेले ना रहने दे-(Do not let yourself be alone)

अकेले रहने से व्यक्ति ज्यादा निराश और परेशान हो जाता है बेचैनी बढ़ने लगती है और दिलो-दिमाग में नकारात्मक विचार पनपने लगते है इसलिए अपने आप को किसी न किसी Interesting कार्यो में व्यस्त रखे अपने दोस्तों के साथ समय बिताये, जिसे आप दिल से पसंद करते है उनके साथ रहिये, अपने परिवार के साथ समय बिताये जिससे आपके मन से depression जैसे भाव दूर हो जायेंगे और आप अच्छा महसूस करेंगे !

6.आशा और उत्साह बनाये रखे-(Maintain hope and enthusiasm)

जिंदगी में दुःख चाहे कितने भी बड़े क्यूँ न हो यदि आप अपनी हिम्मत को दुखो से भी बड़ा कर लेंगे तो कोई दुःख आपको जिंदगी में टिक नहीं पायेंगा, ठहर नहीं पायेंगा याद रखना एक बात यदि आपने हार मानली तो दुःख जित जायेंगा और यदि आपने जितने कि  ठान ली तो तो दुःख हार जायेंगा लेकिन जितना हो तो हौसला रखना पड़ेंगा, हिम्मत रखना पड़ेंगी, लड़ना पड़ेंगा और आगे बढ़ना पड़ेंगा तो इसलिए जो लम्हा चल रहा है जो पल चल रहा है हम यह कसम खाले कि कल चाहे जो भी हो पर इस पल में हम खुश रह के दिखायेंगे, मुस्कुरा के दिखायेंगे जिंदगी सवारने को तो जिंदगी पड़ी है चलिए वह लम्हा सवार लेते है जहा जिंदगी खड़ी है !

यदि हम रोजाना कि जिंदगी में आशा और उत्साह बनाये रखे तो हमें आस पास के माहौल से बहुत ख़ुशी मिलेंगी ऐसा लगेंगा कि प्रकृति हम पर चमत्कार प्रकट कर रही है !

7.दिनचर्या में बदलाव करे-(Change the routine )

आप अपनी दिनचर्या में छोटे-छोटे बदलाव करके अपनी जिंदगी और सम्बन्धो में एक ताजगी महसूस करेंगे. नए-नए लोगो से मिले, नई-नई पत्रिकाए पढ़े, कुछ नयी योजना बनाये और उन्हें मन लगाकर पूरी करे रात में जल्दी सोने और सुबह जल्दी उठने कि आदत डाले और सुबह लम्बी सैर पर निकल जाये जो दिमाग को तरोताजा रखने के लिए और depression दूर करने के लिए यह बदलाव बहुत जरुरी है !

8. मनोरंजन करे-(Entertainment)

कॉमेडी नाटक, हास्यव्यंग, शायरी, कविता, नृत्य, संगीत, मूवी आदि से अपना मनोरंजन करे नयी नयी जगह घुमने जाये जिससे आपका मन हल्का होंगा और आपकि निराशा दूर होंगी !

निष्कर्ष-(Conclusion)

इस लेख में हमने आपको Depresssion se bahar kaise nikle depression से बाहर निकलने के लिए कुछ उपाय बताये है यदि आपने यह उपाय को अपनी ज़िन्द्गी में अपना लिए तो आप depression से बाहर निकलने में बहुत सफल साबित होंगे और आप अच्छा महसूस कर सकेंगे !

इस लेख को पूरा पढने के लिए आपका धन्यवाद मुझे उम्मीद है कि यह लेख Depresssion se bahar kaise nikle depression से बाहर निकलने के लिए उपाय आपको पसंद आया होंगा अगर पसंद आया है तो इसे social media a/c पर share करना न  भूले और comment में अपनी कीमती राय जरुर दे !

Leave a Reply