शारीरिक कमजोरी दूर कैसे करे इन आयुर्वेदिक औषधियों का उपयोग करने से रोग दूर होते है

शारीरिक कमजोरी दूर कैसे करे

शारीरिक कमजोरी दूर कैसे करे?कमजोरी रहने के कई कारण होते हैं, जहां मुख्य कारण शरीर में पोषक तत्वों की कमी है और दूसरा मुख्य कारण शरीर में रक्त की कमी है। इसके अलावा ऑक्सीजन प्रवाह सही न होना या शरीर को आवश्यकताओं के अनुसार ऑक्सीजन नहीं मिलने से थकान और कमजोरी महसूस होती है!

जब बॉडी में ऑक्सीजन का प्रवाह सही नहीं होता है, तो श्वसन प्रणाली में समस्याएं, आंतरिक सूजन और सांस की तकलीफ के साथ भारीपन लगने लगता है अब सवाल उठता है, ऑक्सीजन प्रवाह शरीर मै कैसे बढ़ता है, इसका उत्तर है श्वसन प्रणाली को मजबूत और रोग मुक्त करके!

शारीरिक कमजोरी दूर कैसे करे इन आयुर्वेदिक औषधियों का उपयोग करने से रोग दूर होते है

द्राक्षारिष्ट सिरप
मुलेठी पाउडर
आंवला पाउडर

द्राक्षारिष्ट सिरप-

अंगूर को संस्कृत में द्राक्षा कहा जाता है। इसके द्वारा बनाई गई दवा को जमा किया जाता है क्योंकि अंगूर का रस इस टॉनिक में मुख्य घटक के रूप में उपयोग किया जाता है। द्राक्षारिष्ट श्वसनतंत्र प्रणाली को मजबूत करने और शारीरिक कमजोरियों को खत्म करने की दवा हैं। यह रक्त को बढ़ाने और रक्त को साफ करने के लिए शरीर में बेहतर कार्य करती है। इस दवा का सेवन एनीमिया के लिए विशेष लाभ प्रदान करता है। आप इसे उपयोग करने के तरीके के बारे में अपने आयुर्वेदिक डॉक्टर से इलाज लें क्योकी अपनी शारीरिक आवश्यकताओं के अनुसार प्रत्येक व्यक्ति के लिए खुराक विधि और उपयोग अलग-अलग होता है ।

मुलेठी पाउडर

मुलेठी खांसी को हटाने, खांसी को नियंत्रित करने और श्वसनतंत्र प्रणाली को मजबूत करने के लिए एक बहुत ही प्रभावी दवा है। आप इसे भोजन के बाद शहद के साथ मिलाकर एक दिन में दो बार उपयोग कर सकते हैं।आप शहद में एक चोथाई चम्मच पाउडर मिलाकर धीरे-धीरे चाटकर खाएं।

आंवला पाउडर

सुबह के वक़्त आंवला पाउडर खाली पेट लेने से श्वसनतंत्र प्रणाली और पाचनतंत्र प्रणाली दोनों मजबूत होती हैं। इसके लिए, रात में बिस्तर पर जाने से पहले एक गिलास पानी में एक चम्मच पाउडर घोलकर रख दे! और सुबह खाली पेट इस पानी का उपयोग करे !

यह भी पढ़े-आपको बार-बार हिचकी आती हैं तो आपको क्या करना चाहिए

 

Leave a Reply