आयुष्मान भारत योजना पंजीयन: Ayushman Bharat Yojana Registration

इस बड़ी मुख्य योजना कि परिकल्पना निति आयोग ने कि है हालाकि पहले निति आयोग ने यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज कि पेशकस कि थी जिसमे कुल 25 करोड़ परिवार को शामिल किया जाना था! लेकिन यूनिवर्सल हेल्थ कवरेज कि लागत अधिक होने के कारण इसके बदले आयुष्मान भारत योजना को लाया गया जिसमे सिर्फ 10 करोड़ परिवार को शामिल किया गया! आयुष्मान भारत योजना से देश कि 40% आबादी लाभान्वित होंगी आगे इस योजना का विस्तार कर बाकि बची आबादी को भी इस योजना के दायरे में लाया जायेंगा!

आयुष्मान भारत योजना को जन आरोग्य योजना या मोदी केयर योजना के नाम से भी जाना जाता है! यह योजना आर्थिक रूप से कमजोर लोगो के लिए एक स्वास्थ्य बीमा योजना है! आयुष्मान भारत योजना कि शुरुआत मोदी सरकार द्वारा 14 अप्रैल 2018 को बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर  जयंती के दिन छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में कि गई थी और इसे पंडित दीनदयाल उपाध्याय कि जयंती पर 25 सितम्बर 2018 को पुरे देश में लागु कर दी गई!

आयुष्मान भारत योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन: Ayushman Bharat Yojana Online Registration

इस योजना में आर्थिक रूप से कमजोर लोगो (बीपीएल धारक) को स्वस्थ्य बीमा उपलब्ध कराना है जो व्यक्ति अपना इलाज कराने में असमर्थ है, वह आयुष्मान भारत योजना में शामिल से होकर 5 लाख तक का मुफ्त में इलाज करवा सकता है! आयुष्मान भारत योजना में देश के गरीब लोगो को प्रत्येक परिवार को 5 लाख तक का मुफ्त में स्वास्थ्य बीमा मिलता है!

जिसके के अंतर्गत सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में फ्री इलाज कि सुविधा उपलब्ध करायी जाती है! इस योजना से जुडी सभी जरूरी जानकारी जैसे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, पात्रता, पंजीकरण, दस्तावेज और भी बहुत कुछ हम इस आर्टिकल में आगे बताने वाले है-

Highlights of आयुष्मान भारत योजना 2021

योजना का नाम  –  आयुष्मान भारत योजना

 

प्रारंभ कि गई  –   प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा

 

प्रारंभ करने कि  तारीख  –  14-04-2018

 

आवेदन का रूप  –  ऑनलाइन

 

आवेदन करने कि तारीख –  अब भी उपलब्ध है

 

लाभार्थी  –   भारत का नागरिक

 

उद्देश्य  –  5 लाख का स्वास्थ्य बीमा

 

योजना का रूप  –  केंद्र सरकार योजना

 

मंत्रालय –  स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय

 

ऑफिसियल  वेबसाइट  –  https://pmjay.gov.in/

Ayushman bharat yojana  कोरोना अपडेट

जैसे कि हम सब को मालूम है कि कोरोना वायरस संक्रमण कि वजह से गरीब वर्ग को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ है! इसी को देखते हुवे भारत सरकार ने ये साफ़ कर दिया है कि देश के 50 करोड़ से अधिक  नागरिक जो इस योजना के अंतर्गत आते है जो लाभार्थी है उन्हें आयुष्मान योजना के तहत मुफ्त में इलाज किया जायेंगा कोरोना काल में यदि किसी व्यक्ति को इलाज कि आवश्यकता होती है तो वह गोल्डन कार्ड के अनुसार किसी भी अस्पताल में मुफ्त इलाज करा सकता है!

इसके साथ ही भारत सरकार ने एक और जरूरी फैसला लिया है इस फैसले के तहत कोई भी व्यक्ति मेडिकल कर्मचारी से गलत व्यवहार करता है तो उसे 6 महीने से लेकर 7 साल तक कि सजा हो सकती है साथ ही 2 लाख तक का आर्थिक दंड का प्रावधान भी रखा गया है!

Ayushman bharat yojana का उद्देश्य

स्वास्थ्य किसी भी व्यक्ति के लिए सबसे जरूरी और बुनियादी चीजो में से एक है लेकिन आज़ादी के 70 साल बाद आज भी हमारे देश में एक बड़ी जनसँख्या इससे वंचित है! इसका सबसे बड़ा कारण है इलाज का महंगा होना प्राइवेट अस्पतालों में इलाज महंगा होने के कारण गरीब वह तक जाने को सोच भी नहीं सकता अगर उसे सरकारी मदद या सहायता उपलब्ध न करायी जाए तो

देश में मेहनत मजदूरी कर जीवन व्यापन कर रहे गरीब वर्ग के लोगो को बीमारी होने पर आर्थिक तंगी के कारण अपना इलाज करने में सक्षम नहीं है! और उनकी आर्थिक स्थिति बहुत ख़राब है! इसी को देखते हुए भारत सरकार ने आयुष्मान भारत योजना कि शुरुआत कि जिसका उद्देश्य लोगो कि आर्थिक स्थिति में सुधार कर मृत्यु दर कम करना है!

Ayushman bharat yojana का कार्य

इस योजना में सामाजिक आर्थिक जाती जनगणना 2011 के अनुसार ग्रामीण क्षेत्र में लगभग 8.03 करोड़ परिवार और शहरी क्षेत्र में  2.33 करोड़ परिवार प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अन्दर आएंगे इसे बढ़ाकर प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के अन्दर  50 करोड़ से अधिक लोगो को लाना है! आयुष्मान भारत योजना में 3 करोड़ से ज्यादा लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड दे दिया गया है वर्ष 2008 में शुरू कि गयी राष्ट्रिय स्वास्थ्य बीमा योजना को भी इसी योजना में शामिल कर लिया गया है! जिसके अंतर्गत गरीब,तिरस्कृत और शहरी गरीब लोगो के परिवार को हेल्थ इंश्योरंस प्रदान करना है!

Ayushman bharat yojana में क्या-क्या शामिल है

इस योजना में करीब 1393 पैकेज शामिल है जिसमे 1350 बिमारिया मौजूद है और इन 1350 बीमारियों में 23 गंभीर बीमारियों का इलाज भी शामिल है जैसे प्रोस्टेट केंसर, बायपास तरीके से कोरोनरी आर्टरी का बदलाव , Skull base सर्जरी आदि का इलाज शामिल है!

Ayushman bharat yojana में किसे मिल रहा है बीमा

Ayushman Bharat Yojana में परिवार के आकार, उम्र या लिंग पर कोई सीमा नहीं है! सरकार कि कोशिश यह है कि विशेष रूप से महिला, बच्चे और उम्रदराज व्यक्तियों को इस योजना में शामिल किया जाये! प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना एक पोर्टेबल योजना है यानि इसका लाभ पुरे देश में किसी भी सरकारी या पेनल में शामिल प्राइवेट अस्पताल में उठा सकते है!

Ayushman bharat yojana के लाभार्थियों कि पात्रता क्या है

  ग्रामीणों के लिए पात्रता-

ग्रामीण इलाके में कच्चे मकान में रहने वाले,पिछड़ा वर्ग/अनुसूचित जाती/जनजाति से हो और भूमिहीन व्यक्ति, रोजमर्रा मजदूरी करने वाला हो, परिवार में कोई वयस्क पुरुष 16 से 59 वर्ष का न हो, परिवार कि मुखिया महिला हो और परिवार का कोई सदस्य अपंग हो!

इसके अतिरिक्त ग्रामीण इलाके के बेघर, बेसहारा व्यक्ति, रोड पर भीख मांगने वाले, आदिवासी और जेल में कैद अपराधी आदि व्यक्ति खुद इस योजना में शामिल हो जायेंगे!

 शहरीयो के लिए पात्रता-

ड्राईवर, ऑटो रिक्शा चलाने वाले, दुकान पर काम करने वाले, स्वीपर, सफाई कर्मी, घरेलु काम करने वाले, टेलर, हेंडीक्राफ्ट का काम करने वाले व्यक्ति.

रोड पर काम करने वाले अन्य व्यक्ति, मोची, फेरी वाले, भिखारी, कचरा बीनने वाले, रेहड़ी- पटरी दुकानदार वाले व्यक्ति.

मिस्त्री, मेकेनिक, धोबी, वेल्डर, सिक्यूरिटी गार्ड, कुली, कंस्ट्रक्शन साईट पर काम करने वाले व्यक्ति, मजदुर, इलेक्ट्रीशियन, कारीगर, चपरासी, नौकर आदि आयुष्मान भारत योजना में शामिल होंगे!

यह भी पढ़े:सुकन्या समृद्धि योजना 2021

आयुष्मान भारत योजना में रजिस्ट्रेशन या पंजीकरण के लिए आवेदन कैसे करे

जो व्यक्ति इस योजना में पंजीकरण कराना चाहता है तो वह अपने करीब के जन सेवा केंद्र (CSC) में जाये और अपने सभी जरूरी कागजात कि फोटोकॉपी को जमा करे इसके बाद जन सेवा केंद्र (CSC) के द्वारा सभी कागजात का सत्यापन कर आपको पंजीकरण प्रदान करेंगे!

इसके बाद कुछ ही दिन के अन्दर आपको जन सेवा केंद्र (CSC) द्वारा आयुष्मान योजना का गोल्डन कार्ड दे दिया जायेंगा! इसी तरह से आपका पंजीकरण सफल हो जायेंगा इस गोल्डन कार्ड से आप किसी भी सरकारी अस्पताल या पैनल में शामिल प्राइवेट अस्पताल में 5 लाख तक का फ्री में इलाज करा सकते है!

आयुष्मान भारत योजना के कागजात या दस्तावेज

1.आधार कार्ड 2.राशन कार्ड 3.मोबाइल नम्बर

आयुष्मान भारत योजना में आने वाले रोग

इस योजना में करीब 1350 बीमारियों को शामिल  किया गया है जिससे आप फ्री में इलाज करवा पाएंगे उन बीमारियों में से कुछ बीमारियों के नाम हम बता रहे है-  1.न्यूरो सर्जरी 2.न्यूरो रेडियोलॉजी 3.प्लास्टिक सर्जरी 4.प्रोंस्टेट कैंसर 5.टिश्यू एक्सपेंडर 6.डबल वाल्व रिप्लेसमेंट 7.किडनी कि बीमारी 8.लीवर 9.डायबीटीज 10.दिल कि बीमारी 11.शल्य रोग

 आयुष्मान भारत योजना में न आने वाले रोग

1.अंग प्रत्यारोपण 2.ओपीडी 3.व्यक्तिगत निदान 4.ड्रग रिहैबिलिटेशन 5.कॉस्मेटिक सम्बंधित प्रक्रिया 6.फर्टिलिटी संबंधित प्रक्रिया

  जन आरोग्य योजना में अस्पताल में भर्ती कि प्रक्रिया

प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना में पैनल में शामिल सभी अस्पतालो में एक आयुष्मान मित्र होंगा जो मरीज को अस्पताल कि सुविधाए दिलाकर उसकी सहायता करेंगा!

इस योजना में लाभार्थी अस्पताल में भर्ती होने के लिए कोई राशी नहीं देंगा अस्पताल में कदम रखने से लेकर इलाज तक का सारा खर्च इसी योजना में शामिल किया जायेंगा! यही नहीं इसके अलावा अस्पताल में दाखिल होने से पहले और बाद के खर्च भी शामिल किये जायेंगे!

इस योजना में सम्मिलित व्यक्ति भारत के किसी भी सरकारी या पैनल में शामिल प्राइवेट अस्पताल में पूरा इलाज करा सकेंगा!

अस्पताल में कागजात चेक करने और योजना में नामांकन का वेरिफिकेशन करने के लिए एक हेल्प डेस्क होंगा जो आपकी मदद करेंगा!

आयुष्मान भारत योजना के फायदे

यह योजना कैशलेस और पेपरलेस पर आधारित है.

पैनल में शामिल निजी और सरकारी दोनों ही अस्पतालों में इलाज.

परिवार के कितने भी सदस्य हो या कितना भी बड़ा हो सभी को फायदा.

जन आरोग्य योजना का फायदा लेने के लिए उम्र कि सीमा तय नहीं.

2011 कि जनगणना के आधार पर परिवारों का चयन.

ग्रामीण इलाके के D1, D2, D3,D4, D5 और D7 कैटेगरी के लोग शामिल.

शहरी इलाके के 11 पहले से निश्चित पेशे के लोग इसमें शामिल.

राष्ट्रिय स्वास्थ्य बीमा योजना में शामिल लोग खुद इस योजना में शामिल हो जायेंगे.

हर वर्ष हर परिवार को 5 लाख रुपये तक का स्वास्थ्य लाभ.

बच्चियों, महिलाओ और वरिष्ठ नागरिको को प्राथमिकता.

पहले से मौजूद बीमारिया भी दायरे में.

 इलाज करने से कोई भी हॉस्पिटल इंकार नहीं कर सकता.

50 करोड़ से अधिक लोगो को इस योजना में लाया जायेंगा.

भारत के किसी भी जगह पर लाभ ले सकते है.

Leave a Reply